‘हिंदी’ बोलने वाला ही २०१९ में प्रधान मंत्री बनेगा

bijay-sir

रही, हर कोई ने ‘हिंदी बनें राष्ट्रभाषा’अभियान की तालियों की गड़गड़ाहट से स्वागत भी किया, ‘हिंदी’ को जल्द ही भारत की राष्ट्रभाषा घोषित की जाए, इंडिया का नाम ‘भारत’ बोला जाए, अनुशंसा भी जारी हुयी। कहते हैं जब-जब जो होना होता है तब-तब सो होता है, वर्ष २०१९ को मेरी भारत मॉ को उसकी ज़ुबानठहिंदीठमिलेगी,भारत की राष्ट्रभाषा घोषित होगी, ऐसा मुझे पुरा विश्वास है,क्योंकि पूरे देश में ठहिंदीठ का वातावरण बना है, भारत के कोने-कोने में ठहिंदीठ की महत्वता को समझा जाने लगा है ‘भारतीय भाषा सम्मान यात्रा’ एक ऐसी सोच, जिसको भारत के सभी राजनैतिक व्यक्तियों के समर्थन की जरूरत है, भारत का अपना स्वाभिमान ठहिंदीठ से ही बढेगा, मेरे देश भारत वर्ष की पहचानठहिंदीठ से ही होगी, क्योंकि हम भारतीयों को ठहिंदीठ अच्छी लगती है, हम सभी बोलते भी हैं हम भारतीय हैं, हमारी पहचान हिंदी से ही है, क्या इसका समर्थन आप भी करते हैं, कृपया मार्गदर्शन करें।

You may also like...

Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial